Business is booming.

Mob Lynching : बिहार के आरा में हैवानियत का नंगा नाच, महिला को निर्वस्त्र कर भरे बाज़ार पीटा

0 292

- Advertisement -

 

बिहार में महिलाओं के खिलाफ होने वाली हिंसा रुकने का नाम नहीं ले रही है। ताज़ा मामला आरा जिले के बिहिया का है। जहाँ एक महिला को भरे बाजार निर्वस्त्र कर सड़क पर दौड़ा – दौड़ा कर पीटा गया। इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना 20 अगस्त, सोमवार के दोपहर की है।

महिला की निर्वस्त्र कर पिटाई

दरअसल बिहिया रेलवे स्टेशन के पास विमलेश कुमार नामक युवक का शव बरामद हुआ था। स्थानीय लोग युवक की हत्या का आरोप बिहिया रेलवे स्टेशन के रेड लाइट के पास रहने वाली एक महिला पर लगाने लगे। इस बाबत पुलिस को भी सूचना दी गयी। पुलिस के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं किये जाने पर धीरे-धीरे लोगों में आक्रोश बढ़ने लगा। लोगो का गुस्सा उस वक़्त और अधिक बढ़ गया जब मालूम चला कि विमलेश के मौत की खबर सुनकर उसकी बहन की भी हार्ट अटैक से मृत्यु हो गयी। इसके बाद भीड़ बेकाबू हो गयी और महिला को पीटने लगी। भीड़ का खौफनाक चेहरा तब देखने को मिला जब एक- एक कर महिला के सारे कपडे फाड़ दिए और नग्न अवस्था में ही सरेबाज़ार महिला की पिटाई करने लगे। पुलिस ने बाद में उसे भीड़ से बचाकर इलाज के लिए अस्पताल भेजा। बिहार में लगातार बढ़ रही महिलाओं के प्रति हिंसा के बीच ये खौफनाक वारदात सुशासन के मुंह पर तमाचा है।

मृतक रविवार को ही घर से बिहिया के लिए निकला था

मिल रही जानकारी के अनुसार मृतक विमलेश शाहपुर थाना के दामोदरपुर गांव निवासी गणेश साह का पुत्र था। उम्र तकरीबन 17 साल थी। विमलेश रविवार को ही घर से बिहिया के लिए निकला था। उसने घरवालों से कहा था कि वह कौशल विकास योजना केंद्र में एड्मिसन कराने जा रहा है। बिहिया रेलवे स्टेशन के पास ही रेड लाइट एरिया है, वहीँ विमलेश मृत पाया गया। जहाँ युवक कि लाश पड़ी थी वहां ठीक सामने Redlight एरिया की एक नर्तकी का घर है। लाश मिलने की सूचना मिलते ही स्थानीय लोग इकठ्ठा होने लगे। लोगो ने युवक की हत्या का आरोप नर्तकी पर लगाया। पहले झड़प शुरू हुई फिर बात बढ़ी और उन्मादी भीड़ महिला को पीटने लगी।

बिहिया थानेदार सस्पेंड

बहरहाल, पटना जोन के आईजी नैय्यर हसनैन खां ने सख्त कार्रवाई करते हुए बिहिया थानेदार, एक एसआइ और पांच पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। पीडि़ता के बयान, सीसीटीवी फुटेज व अन्‍य माध्‍यमों से घटना में संलिप्‍त लोगों की शिनाख्‍त की जा रही है। जिले के एसपी को सभी दोषियों के खिलाफ जांच कर कठोर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है।

कांग्रेस हुयी हमलावर

इस शर्मनाक घटना के बाद राजनीतिक बयानबाज़ी भी तेज़ हो गयी है। बिहार कांग्रेस के प्रवक्ता ‘मुकेश कुमार दिनकर’ ने घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि बिहार में शासन – प्रसाशन मूकदर्शक की भूमिका में है। यही कारण है कि समाज में व्यभिचारियों की संख्या बढ़ते जा रही है। आये दिन ऐसी घटनाओं ने बिहार का सर शर्म से झुका दिया है। मुकेश कुमार ने सरकार पर अपराध को लेकर ढुलमुल रवैया अपनाने का आरोप लगाया साथ ही ये भी कहा कि बिहार की NDA सरकार महिलाओं के प्रति पिछली घटित घटनाओं में कड़ी कार्रवाई करने में नाकाम रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ऐसे घटनाओं में संवेदनशीलता के साथ ठोस कारवाई करे।

वहीं पूर्व विधायक मुन्नी देवी ने इस घटना की घोर निंदा की है। उनका कहना है इस तरह से कानून हांथ में लेकर तांडव मचाना किसी भी सुरत में सही नहीं है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की बात करते हुए उन्होनें कहा की इस पुरे प्रकरण में जिन लोगों की संलिप्ता पाई जाएगी उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कांग्रेस और अन्य विरोधी दलों के आरोप को खारिज़ करते हुए उन्होंने कहा कि ये सुशासन की सरकार है इसमें दोषियों को बख्शा नहीं जाता।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.