Business is booming.

प्रशांत किशोर का लालू को जबाब , कहा राज खोल दूंगा तो शर्मिंदा हो जाएंगे आप

0 668

- Advertisement -

प्रशांत किशोर एक बार फिर सुर्ख़ियों में हैं। इस बार पिके को सुर्ख़ियों में लाने की वजह लालू यादव बने हैं । जल्द ही आने वाली पुस्तक ‘गोपालगंज टू रायसीना: माय पॉलिटिकल जर्नी’ में लालू ने दावा किया है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार महागठबंधन में वापसी चाहते थे, और इसको लेकर प्रशांत किशोर ने लालू से कई बार मुलाकात की थी। लेकिन उन्होंने मना कर दिया क्योंकि नीतीश पर उनका भरोसा पूरी तरह खत्म हो गया था। लालू के इस दावे के बाद पिके ने करारा हमला बोला है।

सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्विटर पर प्रशांत किशोर ने स्वीकार किया कि वह जेडीयू में शामिल होने से पहले कई बार लालू यादव से मिले थे, लेकिन अगर वह यह बता दें कि इस मुलाकात में क्या बातचीत हुई, तो आरजेडी सुप्रीमो (लालू यादव) शर्मिंदा हो जाएंगे।

प्रशांत किशोर ने अपने ट्विटर के आधिकारिक अकाउंट पर लिखा, ‘लालूजी द्वारा बताए गए दावे गलत हैं। यह और कुछ नहीं बल्कि एक ऐसे नेता द्वारा अपनी प्रासंगिकता बताने की कोशिश का एक घटिया प्रयास है, जिनके अच्छे दिन पीछे छूट चुके हैं।’

आपको बात दें कि लालू प्रसाद यादव पर लिखी किताब ‘गोपालगंज टू रायसीना: माय पॉलिटिकल जर्नी’ जल्द लॉन्च होने वाली है। नलिन वर्मा के साथ मिलकर लालू यादव ने किताब लिखा है इस किताब में लालू के हवाले से बड़े दावे किए गए हैं। इसमें लिखा है कि नीतीश कुमार ने जेडीयू उपाध्यक्ष और अपने विश्वासपात्र प्रशांत किशोर को अलग-अलग मौकों पर अपना दूत बनाकर उनके पास पांच बार भेजा। प्रशांत किशोर ने हर बार नीतीश की ‘धर्मनिरपेक्ष’ धड़े में वापसी पर लालू को राजी करने की कोशिश की। हालांकि, इस दावे को प्रशांत किशोर ने खारिज कर दिया है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.