Business is booming.

लोकसभा चुनाव 2019 : 7 चरणों में होंगे लोसकभा चुनाव, पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को, 23 मई को आएंगे नतीजे

0 29

- Advertisement -

चुनाव आयोग ने 17वीं लोकसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया है। लोकसभा चुनावों की तारीखों के ऐलान के साथ ही देश में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है। कुल सात चरण में वोटिंग होगी। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कांफ्रेंस कर  बताया कि चुनाव 7 चरणों में संपन्‍न होंगे। पहला चरण 11 अप्रैल को होगा। 23 मई को मतगणना की तारीख तय हुई है। इसके साथ ही पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनाव भी लोकसभा चुनाव के साथ ही होंगे। मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल तीन जून को समाप्त होना है। चुनाव कार्यक्रम की घोषणा होते ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। 

7 चरणों में होंगे लोकसभा चुनाव

पहला चरण :              11 अप्रैल : 91 सीटें     : 20 राज्य 
दूसरा चरण :               18 अप्रैल : 97 सीटें     : 13 राज्य 
तीसरा चरण :              23 अप्रैल : 115 सीटें   : 14 राज्य 

चौथा चरण :                29 अप्रैल : 71 सीटें     : 9 राज्य 
पांचवा चरण :              6 मई : 51  सीटें          : 7 राज्य 
छठा चरण :                12 मई :59  सीटें          : 7 राज्य 
सातंवा चरण :             19 मई : 59 सीटें          : 8 राज्य 

पहला चरण- 11 अप्रैल- 20 राज्यों की 91 सीटों- आंध्र प्रदेश 25, अरुणाचल 2, असम 5, बिहार 4, छत्तीसगढ़ 1, जम्मू-कश्मीर 2, महाराष्ट्र 7, मणिपुर 1, मेघालय 2, मिजोरम 1, नागालैंड 1, ओडिशा 4, सिक्किम 1, तेलंगाना 17, त्रिपुरा 1, उत्तर प्रदेश 8, उत्तराखंड 5, पश्चिम बंगाल 2, अंडमान निकोबार 1 , लक्षद्वीप 1

दूसरा चरण- 18 अप्रैल- 13 राज्यों की 97 सीटें- असम 5, बिहार 5, छत्तीसगढ़ 3, जम्मू-कश्मीर 2, कर्नाटक 14, महाराष्ट्र 10, मणिपुर 1, ओडिशा 5, तमिलनाडु 39, त्रिपुरा 1, उत्तर प्रदेश 8, पश्चिम बंगाल 3 , पुद्दुचेरी 1

तीसरा चरण- 23 अप्रैल-14 राज्यों की 115 सीटें- असम 4, बिहार 5, छत्तीसगढ़ 7 सीटें, गुजरात 26, गोवा 2, जम्मू-कश्मीर 1, कर्नाटक 14, केरल 20, महाराष्ट्र 14, ओडिशा 6, उत्तर प्रदेश 10, पश्चिम बंगाल 5, दादर नागर हवेली 1, दमन दीव 1

चौथा चरण- 29 अप्रैल- 9 राज्यों 71 सीटें- बिहार 5, जम्मू-कश्मीर 1, झारखंड 3, मध्यप्रदेश 6, महाराष्ट्र 17, ओडिशा 6, राजस्थान 13, उत्तर प्रदेश 13, पश्चिम बंगाल 8

पांचवां चरण- 6 मई- 7 राज्यों की 51 सीटें- बिहार 5, जम्मू कश्मीर 2, झारखंड 4, मध्यप्रदेश 7, राजस्थान 12, उत्तर प्रदेश 14, पश्चिम बंगाल 7

छठवां चरण- 12 मई- 7 राज्यों की 59 सीटें- बिहार 8, हरियाणा 10, झारखंड 4, मध्यप्रदेश 8, उत्तर प्रदेश 14, पश्चिम बंगाल 8, दिल्ली 7

सातवां चरण- 19 मई- 8 राज्यों की 59 सीटें- बिहार 8, झारखंड 3, मध्यप्रदेश 8, पंजाब 13, चंडीगढ़ 1, पश्चिम बंगाल 9, हिमाचल 4, उत्तर प्रदेश 13

किस राज्‍य में कब चुनाव

यूपी, बिहार और बंगाल में 7 राउंड में वोटिंग
सबसे ज्यादा 80 लोकसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश, 40 सीटों वाले बिहार और 42 सीटों वाले पश्चिम बंगाल में सभी 7 चरणों में मतदान होगा। वहीं झारखंड और ओडिसा में चार फेज में चुनाव होंगे।

बिहार लोकसभा चुनाव का Schedule

पहला चरण में 11 अप्रैल को बिहार के 4 लोकसभा सीट पर चुनाव होंगे। दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 5 सीटों पर होगा चुनाव। 23 अप्रैल को तीसरे चरण में बिहार के 5 सीटों पर चुनाव कराया जाएगा। चौथे चरण में 29 अप्रैल को 5 सीटों पर चुनाव संपन्न होगा। पांचवे चरण में 6 मई को बिहार के 5 लोकसभा सीटों पर चुनाव होगा। छठे चरण में 12 मई 8 सीटों पर बिहार में चुनाव कराया जाएगा। अंतिम चरण में 19 मई को 8 सीटों पर चुनाव कराया जाएगा।
22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में एक राउंड में ही वोटिंग
आंध्र प्रदेश, अरुणाचल, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, केरल, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, पंजाब, सिक्किम, तेलंगाना, तमिलनाडु, उत्तराखंड, अंडमान-निकोबार, दादर एवं नागर हवेली, दिल्ली, पुदुचेरी, चंडीगढ़ में एक ही राउंड में मतदान होगा।

उम्मीदवारों को सोशल मीडिया अकाउंट के बारे में जानकारी देनी होगी

चुनाव आयोग का इस बार सभी उम्मीदवारों को अपने सोशल मीडिया अकाउंट के बारे में भी जानकारी देनी होगी। चुनाव आयोग का कहना है कि हमने इस बार चुनावी तारीखों के ऐलान में त्‍योहार और परीक्षाओं का भी ध्‍यान रखा है।

एक नज़र

  • चुनाव के लिए सभी एजेंसियों से राय ली गई है।
  • परीक्षा, त्योहारों और कटाई के मौसम को ध्यान में रखकर चुनाव की तारीख पर फैसला किया गया है।
  • इस बार के चुनाव में 90 करोड़ वोटर्स होंगे जबकि पिछली बार 81।45 करोड़ वोटर्स थे।
  • इस चुनाव में 90 करोड़ मतदाता हैं जिनमें से डेढ़ करोड़ 18-19 साल के हैं।
  • 1950 कॉल फ्री नंबर पर आप वोटर लिस्ट से जुड़ी जानकारी ले सकते हैं।
  • तारीखों के ऐलान के 10 दिन बाद वोटर लिस्ट में कोई बदलाव नहीं।
  • अलग-अलग राज्यों के अधिकारियों, राजनीतिक दलों और सुरक्षा एजेंसियों से बातचीत करने के बाद चुनाव का कार्यक्रम तैयार किया गया है।
  • चुनाव में होने वाले खर्च पर आयोग की विशेष निगरानी रहेगी।
  • वोटिंग के लिए 10 लाख पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। पिछली बार 9 लाख पोलिंग स्टेशन थे।
  • संवेदनशील इलाकों में चुनाव के लिए CRPF की तैनाती की जाएगी। रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर पर बैन रहेगा।
  • सभी उम्मीदवारों को शपथपत्र देना होगा और साथ ही आपराधिक रिकॉर्ड की भी जानकारी देनी होगी।
  • संवेदनशील इलाकों में चुनाव के लिए CRPF की तैनाती की जाएगी।
  • गूगल, फेसबुक पर ऐड की पहले लेनी पड़ेगी सर्टिफिकेशन।
आम चुनाव में सिर्फ Third-Generation  का EVM

चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव में पूरी तरह टैंपर प्रूफ कही जाने वाली तीसरी पीढ़ी की ईवीएम ही इस्तेमाल करने का फैसला किया है। 16 लाख नई मशीनें खरीदी गई हैं। छेड़छाड़ की कोशिश होते ही यह मशीन फैक्ट्री सेटिंग मोड में चली जाएगी और इसे इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। कंपनी में ही इन्हें दोबारा शुरू किया जा सकेगा। इन मशीनों से छेड़छाड़ की कोशिश करने वाले की पहचान भी संभव है। आम चुनावों की तारीखों के एलान के साथ ही चुनाव आचार संहिता भी लागू हो जाएगी।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.