Business is booming.

महापर्व छठ की छटा से भक्तिमय हुआ बिहार, उगते सूर्य को अर्ध्य के साथ चार दिवसीय अनुष्ठान सम्पन्न

0 99

- Advertisement -

लोक आस्था का महापर्व छठ बिहार समेत पूरे देश में धूम-धाम से मनाया गया। छठ व्रतियों ने अस्ताचलगामी और उदीयमान सूर्य को अर्ध्य देकर अपने परिवार और समाज के लिए मनोकामनाएं मांगी। इस महापर्व में छठी मइया के साथ भगवान भास्कर की आराधना भी की जाती है। इस मौके पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों को इस महापर्व की शुभकामनाएं दी।

image-2016-11-07-at-2-53-50-pm

चार दिनों तक चले इस महापर्व के दौरान पूरा वातावरण भक्तिमय हो चूका था। क्या बच्चे, क्या बूढ़े सब आस्था के रंग में ढले हुए थे। छठ के गीतों ने भी पूरा माहौल भक्तिमय कर दिया था। इस त्यौहार की सबसे ख़ास बात यह की जिनके यहाँ छठ का आयोजन नहीं भी होता है, वे भी इस महापर्व को समाज के लोगों के साथ मिलकर पूरे आस्था के साथ मनाते हैं।

whatsapp-image-2016-11-07-at-2-53-54-pm

समाज के हर वर्ग विभिन्न संप्रदाय के लोगों ने मिल जुलकर इस आस्था के त्यौहार को मनाया, इस दौरान बिहार के राजधानी पटना में तमाम छठ पूजा समितियों ने बेहतरीन सजावट के साथ-साथ सूर्यदेव की प्रतिमाएं भी स्थापित की थी। प्रसाशन ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये थे।

whatsapp-image-2016-11-06-at-8-50-06-pm-1

whatsapp-image-2016-11-06-at-8-50-08-pm

राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव स्टीमर पर सवार होकर पटना के विभिन्न घाटों का निरीक्षण किया। उन्होंने छठव्रतियों का अभिवादन स्वीकार किया और छठ की बधाई दी।

tejasvi-with-cm

गंगा घाटों पर लोगो का जनसैलाब उमड़ पड़ा था। महेन्द्रू घाट,कलेक्ट्रियट घाट, गायघाट पर लोग अधिक संख्या में भगवान् को अर्ध्य देने आये थे।

whatsapp-image-2016-11-07-at-2-54-14-pm

whatsapp-image-2016-11-07-at-2-54-18-pm

पटना के अलावा अन्य जिलों में भी छठ पूजा हर्षौल्लास के साथ मनाया गया।

whatsapp-image-2016-11-07-at-2-54-15-pm

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पूर्वांचल वासियों ने छठ का त्यौहार मनाया। दिल्लीवासियों ने पूरे श्रद्धा और भक्तिभाव के साथ भगवान् भास्कर को अर्ध्य दिया। आपकों बताते चलें की सम्पूर्ण देश में पूर्वांचल के लोग छठ का आयोजन करते हैं।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.