Business is booming.

भारत 2020 में अंडर-17 महिला फुटबॉल विश्व कप की करेगा मेजबानी

0 9

- Advertisement -

भारत पहली बार 2020 में अंडर-17 महिला विश्व कप का आयोजन करेगा। फुटबॉल की सर्वोच्च संस्था फीफा ने शुक्रवार देर रात इसकी पुष्टि की। भारत ने फ्रांस को पीछे छोड़ते हुए मेजबानी का अधिकार हासिल किया।

मियामी में फीफा काउंसिल की बैठक में अध्यक्ष जियानी इन्फेंटीनो ने कहा कि हमने फैसला किया है कि 2020 में भारत अंडर-17 महिला विश्व कप की मेजबानी करेगा। मालूम हो कि यह भारत में फीफा का दूसरा आयोजन होगा। इससे पहले 2017 में भारत ने पहली बार अंडर-17 पुरुष विश्व कप की मेजबानी की थी। उसमें इंग्लैंड ने स्पेन को फाइनल में 5-2 से हराकर खिताब अपने नाम किया था।

अंडर-17 महिला विश्व कप का सातवां संस्करण भारत में आयोजित किया जाएगा। भारत इसकी मेजबानी करने वाला दूसरा एशियाई देश होगा। इससे पहले जॉर्डन ने 2016 में इसकी मेजबानी की थी। 2016 का खिताब उत्तर कोरिया ने जीता था। वह इस टूर्नामेंट में दो खिताब जीतने वाला इकलौता देश है। फ्रांस और भारत ही दो ऐसे देश थे जिन्होंने पिछले साल जुलाई में बोली प्रक्रिया शुरू होने पर टूर्नामेंट की मेजबानी में रुचि दिखाई थी। भारत ने बोली प्रक्रिया के दौरान दक्षिण कोरिया के साथ अंडर-20 महिला विश्व कप की मेजबानी में भी रुचि दिखाई थी।

फीफा की सीनियर महिला टीम रैंकिंग में भारत 62वें स्थान पर है। थाइलैंड, वियतनाम, म्यांमार, जॉर्डन और ईरान के अलावा एशिया में भारत का स्थान 11वां है। भारत में महिला लीग है, जो 10 से कम टीमों के साथ जूनियर और सब-जूनियर महिला राष्ट्रीय चैंपियनशिप के दो कठिन संस्करणों के जरिये सामने आई है। हालांकि, महिला फुटबॉल में काफी कम कम पैसा है और ना ही इसमें स्थिर क्लब संरचना और ना ही स्थायी प्रतिस्पर्धी कैलेंडर है।

अंडर-17 टूर्नामेंट की शुरुआत 2008 में हुई थी, जिसकी पहली बार मेजबानी न्यूजीलैंड ने की थी। स्पेन इस टूर्नामेंट का मौजूदा विजेता है, जिसने पिछले वर्ष उरुग्वे में मेक्सिको को 2-1 से हराकर खिताब जीता था। स्पेन पहली बार इस टूर्नामेंट का विजेता बना था। साथ ही खिताब जीतने वाला पांचवां देश भी बना था। एशियन टीम इस टूर्नामेंट में शानदार खेली हैं। जापान ने 2014 में जबकि दक्षिण कोरिया ने 2010 में यह खिताब एक-एक बार जीता।

इसके अलावा दो बार उत्तर कोरिया ने खिताब जीता। 2012 का खिताब फ्रांस ने और 2018 का खिताब स्पेन ने जीता। मालूम हो कि यह पहली बार होगा कि मेजबान होने के नाते भारतीय महिला टीम फीफा की किसी विश्व कप प्रतिस्पर्धा में भाग लेगी। 2017 में भी उसे मेजबान होने के नाते उसकी जूनियर पुरुष टीम को यह मौका मिला था। इस बैठक के दौरान कतर 2022 में कतर में होने वाले मुख्य विश्व कप में 48 टीमों को खिलाने पर भी सहमति बन गई है। इसमें कम से कम एक टीम पर्शियन गल्फ से एक और टीम शामिल की जाएगी।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.